Wednesday, May 12, 2010

आवाज़

आज समय की यही पुकार है की लोग अपनी आवाज़ को बुलंद करे, क्यों कि आपकी आवाज़ को सुनने वाला कोई नहीं है, आपकी आवाज़ में इतनी शक्ति हो जैसे कि शेर कि आवाज़ में होती है तब कुछ बात बनेगी और सामने वाला भी आपकी बात को सुनेगा।

अजय केशरी

1 comment: